मुसलमानोंको वोट बैंक से पोलिटिकल फोर्स बनने की जरूरत

Muslims need to become Political Force from Vote Bank: मुसलमानोंको  वोट बैंक से पोलिटिकल फोर्स बनने की जरूरत किसी भी लोकतान्त्रिक देश के विकास का पैमाना है कि वह अपने अल्पसंख्यकों के साथ किस तरह का सलूक करता है, जिस देश का एक बड़ा तबका पिछड़ेपन और असुरक्षा के भावना के साथ जी रहा हो वह इस पैमाने पर खरा नहीं उतर सकता है, यह भी पढ़िए : दोन बायका अन फजीती ऐकाहिंदुस्तान की जम्हूरियत की मजबूती केलिए जरूरी हैं कि अकलियतों में असुरक्षा की भावना को बढ़ाने / भुनाने और “तुष्टिकरण” के आरोपों की राजनीति बंद हो और उनकी समस्याओंको राजनीति के एजेंडे पर लाया जाए, सच्चर और रंगनाथ मिश्र कमेटी जैसी रिपोर्टो की अनुसंशाओं पर खुले दिल से अमल हो, यह भी पढ़िए :सजग की व्हिडीओ न्यूज...

Read more

Welcome Back!

Login to your account below

Create New Account!

Fill the forms bellow to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.